दादी-नानी और पिता-दादाजी के बातों का अनुसरण, संयम बरतते हुए समय के घेरे में रहकर जरा सा सावधानी बरतें तो कभी आपके घर में डॉ. नहीं आएगा. यहाँ पर दिए गए सभी नुस्खे और घरेलु उपचार कारगर और सिद्ध हैं... इसे अपनाकर अपने परिवार को निरोगी और सुखी बनायें.. रसोई घर के सब्जियों और फलों से उपचार एवं निखार पा सकते हैं. उसी की यहाँ जानकारी दी गई है. इस साइट में दिए गए कोई भी आलेख व्यावसायिक उद्देश्य से नहीं है. किसी भी दवा और नुस्खे को आजमाने से पहले एक बार नजदीकी डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें.
पुरे वर्ष सन् 2017 के पर्व त्यौहार निचे मौजूद है...

लेबल

आप यहाँ आये हमें अच्छा लगा... आपका स्वागत है

नोट : यहाँ पर प्रस्तुत आलेखों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी को संकलित करके पाठकों के समक्ष प्रस्तुत करने का छोटा सा प्रयास किया गया है। पाठकों से अनुरोध है कि इनमें बताई गयी दवाओं/तरीकों का प्रयोग करने से पूर्व किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लेना उचित होगा।-राजेश मिश्रा

स्वास्थ लाभ के साथी, इस वेबसाइट से जुड़ें : राज

बुधवार, मई 20, 2015

अमरूद के लाभ और इसके औषधीय प्रयोग

अमरूद की पत्ती से करें कई रोगों का उपचार : राजेश मिश्रा 
Guava leaf benefits

अमरूद की पत्‍तियों के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं जिसके बारे में हमें पता ही नहीं है। यह आपकी कई बीमारियों में आराम पहुंचा सकती है। वजन घटाना हो, गठिया के दर्द ने परेशान कर रखा हो या फिर पेट ठीक ना रहता हो, तो आप अमरूद की पत्‍तियों के रस का प्रयोग कर सकते हैं।
● इसमें ऐसे चमत्‍कारी गुण हैं जो आपकी कई बीमारियों को एक पल में दूर कर सकती हैं। त्‍वचा, बाल और स्‍वास्‍थ्‍य की देखभाल के लिये अमरूद की ताजी पत्‍तियों का रस या फिर इसकी बनी हुई चाय बहुत ही फायदेमंद होती है।
● वजन घटाना हो, गठिया के दर्द ने परेशान कर रखा हो या फिर पेट ठीक ना रहता हो, तो आप अमरूद की पत्‍तियों के रस का प्रयोग कर सकते हैं। आइये जानते हैं अमरूद की पत्‍तियां किस बीमारी में लाभ पहुंचाती हैं...
1) वजन घटाए
अमरुद की नई कोमल 4-4 पत्तियां सुबह-शाम खाने के बाद चबाने से जटिल स्टार्च को शुगर में बदलने की प्रक्रिया को रोकता है जिसके द्वारा शरीर के वज़न को घटाने में सहायता मिलती है।
2) गठिया दर्द
अमरूद के पत्तों को कूटकर, लुगदी बनाकर उसे गर्म करके लगाने से गठिया की सूजन दूर हो जाती hai.
3) स्वप्नदोष में लाभ
अमरूद के पत्तों को पीसकर उसका रस निकालकर उसमें स्वादानुसार चीनी मिलाकर नित्य पीते रहने से स्वप्नदोष की बीमारी में लाभ होता hai.
4) ल्यूकोरिया में लाभ
अमरूद की ताजी पत्तियों का रस 10 से 20 मिलीलीटर तक नित्य सुबह-शाम पीने से ल्यूकोरिया नामक बीमारी में अप्रत्याशित लाभ पहुंचाता है।
5) कोलेस्‍ट्रॉल कम करे
अमरूद की पत्‍तियों का जूस लिवर से गंदगी निकालने में मदद करता है। यह खराब कोलेस्‍ट्रॉल को कम करता है।
6) डायरिया मिटाए
यह पेट की कई बीमारियों को ठीक करने में असरदार है। एक कप खौलते हुए पानी में अमरूद की पत्‍तियों को डाल कर उबालिये और फिर उसका पानी छान कर पी लीजिये।
7) पाचन तंत्र ठीक करे
अमरूद की पत्‍तियां या फिर उससे तैयार जूस पी कर आप पाचन तंत्र को ठीक कर सकते हैं। इससे फूड प्‍वाइजनिंग में भी काफी राहत मिलती है।
8) दांतों की समस्‍या के लिये
दांतदर्द, गले में दर्द, मसूड़ों की बीमारी आदि अमरूद की पत्‍तियों के रस से दूर हो जाती है। आप पत्‍तियों को पीस कर पेस्‍ट बना कर उसे मसूड़ों या दांत पर रख सकती हैं।
9) डेंगू बुखार
डेंगू बुखार में अमरूद की पत्‍तियों का रस पियें। यह बुखार को संक्रमण को दूर करता है।
10) एलर्जी दूर करे
अमरूद की पत्‍तियों का रस किसी भी प्रकार की एलर्जी को दूर कर सकता है। यह उस वायरस को खतम करता है जिससे एलर्जी पैदा होती है।
11) सिर में दर्द
आधे सिर में दर्द होने पर सूर्योदय के पूर्व ही कच्चे हरे ताजे अमरूद लेकर पत्थर पर घिसकर लेप बनाएं और माथे पर लगाएं। कुछ दिनों तक नित्य प्रयोग करने से पूर्ण लाभ होता है।
12) मुंह के छाले
अमरूद के पत्तों पर कत्था लगाकर चबाएं। केवल अमरूद के पत्ते चबाने से भी छाले ठीक हो जाते हैं।
13) मुंहासे मिटाए
यह एक एंटीसेप्‍टिक पत्‍तियां होती हैं जो कि बैक्‍टीरिया को मार सकती हैं। इसके लिये ताजी पत्‍तियों को पीस कर दाग धब्‍बों के साथ मुंहासो पर लगाएं। ऐसा रोजान करना उचित रहेगा।

Seasonal Foods