दादी-नानी और पिता-दादाजी के बातों का अनुसरण, संयम बरतते हुए समय के घेरे में रहकर जरा सा सावधानी बरतें तो कभी आपके घर में डॉ. नहीं आएगा. यहाँ पर दिए गए सभी नुस्खे और घरेलु उपचार कारगर और सिद्ध हैं... इसे अपनाकर अपने परिवार को निरोगी और सुखी बनायें.. रसोई घर के सब्जियों और फलों से उपचार एवं निखार पा सकते हैं. उसी की यहाँ जानकारी दी गई है. इस साइट में दिए गए कोई भी आलेख व्यावसायिक उद्देश्य से नहीं है. किसी भी दवा और नुस्खे को आजमाने से पहले एक बार नजदीकी डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें.
पुरे वर्ष सन् 2017 के पर्व त्यौहार निचे मौजूद है...

लेबल

आप यहाँ आये हमें अच्छा लगा... आपका स्वागत है

नोट : यहाँ पर प्रस्तुत आलेखों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी को संकलित करके पाठकों के समक्ष प्रस्तुत करने का छोटा सा प्रयास किया गया है। पाठकों से अनुरोध है कि इनमें बताई गयी दवाओं/तरीकों का प्रयोग करने से पूर्व किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लेना उचित होगा।-राजेश मिश्रा

स्वास्थ लाभ के साथी, इस वेबसाइट से जुड़ें : राज

मंगलवार, मार्च 24, 2015

बालों में रूसी दूर करने के कुछ उपाय

रूसी इलाज के लिए आयुर्वेदिक तरीके

सिर में रूसी का होना एक आम समस्या है, जिससे हममें से हर कोई परेशान रहता है। जब यह रूसी हद से ज्यादा बढ़ जाती है और हमारे कपड़ों कर गिरने लगती है, तब कई बार इस समस्या के कारण हमें दूसरों के सामने शर्मिंदा भी होना पड़ता है।

आजकल विज्ञापनों में दिखाए जाने वाले महँगे और रूसी हटाने का दावा करने वाले शैंपुओं से हमारे सिर की रूसी तो नहीं जाती परंतु हमारे सिर के बचे-कुचे बालजरूर चले जाते हैं। यदि सिर में रूसी हो तो इससे बाल झड़ने लगते हैं व उनकी वृद्धि रुक जाती है।

क्या है रूसी का कारण :-

बालों में तेल नहीं लगाना, कई दिनों तक सिर नहीं धोना, सिर की त्वचा में संक्रमण होना आदि सिर में रूसी होने के सामान्य कारण हैं।

क्या है उपचार :-

रूसी को दूर करने के कई घरेलू उपचार हैं, जिनसे इस समस्या से आसानी से निजात पाई जा सकती है। रूसी से निजात पाने के लिए आप निम्न उपाय करें -
* आँवला, रीठा, शिकाकाई तीनों की बराबर मात्रा लेकर इससे तीन गुना पानी में इन्हें धीमी आँच पर खूब उबालें। जब पानी पहले से आधा हो जाए तब इस पानी को छानकर इसे शैंपू की तरह इस्तेमाल करें।
* केस्टर ऑइल और जैतून का तेल दोनों को बराबर मात्रा में लेकर उसे गुनगुना गर्म करके इस तेल से बालों की जड़ों में मसाज करें।
* रात को मसाज करने के बाद सुबह एक चम्मच आँवला पावडर में एक अंडा मिलाकर इस मिश्रण को बालों की जड़ों में आधे घंटे लगाकर छोड़ दें। इसके बाद बाल धो लें।
* अपने भोजन में सलाद, फल व हरी सब्जियों को अवश्य शामिल करें।
* मेथीदाना हमारे पेट व बाल दोनों के लिए लाभकारी होता है। रात को मेथीदाना पानी में भिगोकर सुबह उसे पीसकर उस पेस्ट को बालों की जड़ों में अच्छी तरह लगाकर कुछ देर बाद बाल धो लें। इससे बाल काले व चमकदार बनते हैं।
* जैतून के तेल में शहद व दालचीनी पावडर मिलाकर इस मिश्रण को भी सिर की त्वचा पर लगाने से रूसी व बाल झड़ने की समस्या दूर होती है।* सामान्य बालों में रूसी की समस्या हो गई हो तो सरसों के तेल में थोड़ा नींबू का रस मिलाकर रूई से बालों की जड़ों में लगाएं। इसके प्रयोग से रूसी खत्म हो जायेगी।
* बाल यदि तैलीय हों और रूसी की *समस्या उत्पन्न हो गई हो तो जैतून का
*तेल व नींबू का रस मिलाकर बालों की *जड़ों में लगाएं और लगभग बीस मिनट के उपरान्त बालों को शैम्पू कर लें।
* शुष्क बालों में यदि रूपी की समस्या हो गई हो तो टमाटर के गूदे में एक चम्मच ग्लिसरीन मिलाकर बालों में लगाएं और बीस या तीस मिनट के उपरान्त बालों को शैम्पू कर लें।
* दो चम्मच जैतून के तेल में दो चम्मच अरंडी का तेल मिलाकर उसे बालों की जड़ों में लगाएं।
* सौ ग्राम नारियल के तेल में चार ग्राम कपूर मिलाकर रात को सोने से पूर्व बालों की जड़ों में लगाने से रूसी से मुक्ति मिलती है।

सावधानियां

* बालों की स्वच्छता का पूर्ण ध्यान दें।
* दूसरों के ब्रश, कंघियां, टॉवेल आदि का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
* पौष्टिक आहार का सेवन किया जाना चाहिए।

शुष्क बाल समाधान क्या है?

बालों की अनगिनत समस्याओं में शुष्क बाल भी एक आम समस्या है। तैलीय बाल जहां तेल ग्रंथियों की अतिक्रियाशीलता के कारण होते हैं, वही शुष्क बाल तेल ग्रंथियों की अक्रियाशीलता के कारण शुष्क हो जाते हैं। शुष्क बाल जहां देखने से अनाकर्षक लगते हैं वही यह बालों से संबंधित अनेक समस्या जैसे बालों का झड़ना बालों का दो मुंहे होना, बालों का सफेद होना, बाल में रूसी होना आदि को उत्पन्न कर देते है। शुष्क बालों की समस्या के कुछ कारण इस प्रकार हैं : कठोर शैम्पू, दुर्बल रक्त संचारण, बालों में रूसी, बालों का अधिक खुला रहना, रासायनिक लोशनों व डाई का प्रयोग, मानसिक तनाव या चिन्ता, अधिक गर्मी व तेल का प्रयोग, धूल मिट्टी, असंतुलित आहार, पानी का कम सेवन, बालों में मेहंदी का अधिक प्रयोग, बालों को गर्म पानी से धोना आदि।

उपचार

* तीन चम्मच मेथी पाउडर में दही मिलाकर बालों में लगभग 45 मिनट लगायें, तत्पश्चात हल्के गुनगुने पानी से बालों को धो लें।
* अंडे की जर्दी को बालों में लगाना भी शुष्क बालों के लिए बहुत उपयोगी है।
* शुष्क बालों के लिए सप्ताह में दो बार सरसों के तेल की मसाज भी बहुत उपयोगी है।
* नारियल या जैतून के तेल की मसाज भी शुष्क बालों की समस्या का समाधान करती है।
* प्रोटीन कंडीशनर का प्रयोग भी शुष्क बालों के लिए बहुत उपयोगी है।

सावधानियां

* बालों की प्रकृति के अनुसार शैम्पू का प्रयोग करें।
* पौष्टिक आहार का सेवन करें।
* रासायनिक लोशनों व डाई का प्रयोग कम करें।
* बालों को धूल मिट्टी से बचाकर रखें।
* बालों के धोने के लिए ठंडे पानी का प्रयोग करें।
* बालों को बांध कर रखें उन्हें खुला न छोड़े।
* बालों में शैंपू का प्रयोग सप्ताह में एक बार ही करें।

Seasonal Foods