दादी-नानी और पिता-दादाजी के बातों का अनुसरण, संयम बरतते हुए समय के घेरे में रहकर जरा सा सावधानी बरतें तो कभी आपके घर में डॉ. नहीं आएगा. यहाँ पर दिए गए सभी नुस्खे और घरेलु उपचार कारगर और सिद्ध हैं... इसे अपनाकर अपने परिवार को निरोगी और सुखी बनायें.. रसोई घर के सब्जियों और फलों से उपचार एवं निखार पा सकते हैं. उसी की यहाँ जानकारी दी गई है. इस साइट में दिए गए कोई भी आलेख व्यावसायिक उद्देश्य से नहीं है. किसी भी दवा और नुस्खे को आजमाने से पहले एक बार नजदीकी डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें.
पुरे वर्ष सन् 2017 के पर्व त्यौहार निचे मौजूद है...

लेबल

आप यहाँ आये हमें अच्छा लगा... आपका स्वागत है

नोट : यहाँ पर प्रस्तुत आलेखों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी को संकलित करके पाठकों के समक्ष प्रस्तुत करने का छोटा सा प्रयास किया गया है। पाठकों से अनुरोध है कि इनमें बताई गयी दवाओं/तरीकों का प्रयोग करने से पूर्व किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लेना उचित होगा।-राजेश मिश्रा

स्वास्थ लाभ के साथी, इस वेबसाइट से जुड़ें : राज

रविवार, अप्रैल 05, 2015

रूखे, बेजान और दोमुहें बाल

प्राकृतिक घरेलू उपचार बालों के लिए 

Home remedy for Stiff and Lifeless Hair

हमारे शरीर में बालों का भी अलग ही रोल होता है और अगर बाल देखने में सुन्दर है तो हमारे खूबसूरती पर भी उसका असर पड़ेगा और हम किस प्रकार से बालों की देखभाल करें यह भी जानना जरूरी हैं।
हमें अपने बालों को मौसम के अनुसार उसकी सुरक्षा करनी चाहिए और गर्मी में बालों मे धूल धक्कड़ ज्यादा हो जाती है इसलिए हमें सप्ताह में दो या तीन बार बालांे को धोना चाहिए। बालोें को शैम्पू करने के बाद में किसी सॉफ्ट टॉवेल से लपेट लेना चाहिए जब बाल सूख जाये तब ही उसक झाड़ना चाहिए गीले बालों में झाड़ने से बालों की जड़े कमजोर हो जाती हैं और बाल जल्दी टूटने लगते हैं और जाड़ो में बालो को धोने के बाद में गर्म पानी करके उस टॉवेल को गीलाकर निचोड़ कर बालों में लपेट लेना चाहिए इससे बालों को स्टीम मिलती है क्योंकिजाड़ो में बाल ज्यादातर टूटतें है
सबसे बड़ी बात यह है कि बालों का ध्यान रखने के लिए तनाव ग्रस्त नहीं रहना चाहिए और इसके अलावा बालों के लिए खान पान का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए ज्यादातर फल हरी सब्जियों का सेवन करना चाहिए । खाना नियमित रूप में समय पर खाना चाहिए क्योंकि हमारे भोजन से ही बालों को पोषण प्राप्त होता है।
हम में से अधिकतर रूखे और घुंघराले बालो का बार-बार होने सबसे आम समस्या है। दो मुहें बालों के कुछ कारणों में धूप में रहना, रासायनिक आधारित स्टाइलिंग उत्पाद, अधिक शैंपू का इस्तेमाल करना, क्लोरिन मिले पानी में तैरना है। हालांकि बाजार में रूखे और बैजान बालों के लिए कई रासायनिक आधारित उपचार उपलब्ध है, प्राकृतिक उपचारों का सहारा लेना यह एक अच्छी शुरूआत हो सकती है। इनमें कोई साइड इफेक्ट नही है। 

प्राकृतिक घरेलू उपचार

सबसे प्रभावी घरेलू उपचार, जिसमें रूखे और दोमुहें बालों के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाना शामिल हो सकता हैः
  1. मेयोनेज़ रूखे रोमकूपों पर उपयोग के लिए सबसे उपयोगी विकल्पों में से एक है। यह आपकी रसोई में पायी जाने वाली सबसे सामान्य वस्तु है। मेयोनेजड में फैटी एसिड अधिक होता है और यह बालों के लिए उपयुक्त मॉइस्चराइजिंग प्रभाव, तथा सोफ्ट और शाइन बाल करने के लिए जाना जाता है। हालांकि, आप को वांछित प्रभाव के लिए शुद्ध मेयोनेज़ के उपयोग को सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। कई पदार्थों के सथ इसका उपयोग करना बुरा प्रभाव दे सकता है। आप अपने बालों के धोने के बाद मेयोनेज़ को लगाये।
  2. अपने बालों में कंघी करने की आवशयकता है। एक प्लास्टिक की थैली में इन्हे रैप करें और कुछ समय के लिए एक गर्म तौलिये को लपेटें। 30 मिनट के बाद एक शैंपू और कंडीशनर से इसे धो लें। 
  3. अपने बालों को धोने औऱ तोलियें से सुखाने के बाद कुछ बियर का स्प्रे करें। इसे करने के लिए स्प्रे पंप का उपयोग सबसे अच्छा होगा। एक बार सूखने के बाद, आप अपने बालों को मनचाहा स्टाइल दे सकते है। बियर आपके बालों को सोफ्ट शाइनी बनाता है और दोमुहे बालों को समाप्त करने के लिए भी उपयोगी है। 
  4. अधिक पके अवोकादो और कैले का मिश्रण रूखे बालों के लिए एक आदर्श औषधि हो सकती है जो दोमुहें बालों के उपचार के लिए बहुत विकसित है। कैले में विटामिन ए और पोटाशियम अधिक मात्रा में होता है। एवोकादों ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर है। इसलिए इसका मिश्रण रूखे और बैजान बालों के लिए आदर्श है। इस पेस्ट को बालों को धोने के बाद साफ करने के बाद लगाएं। 15 मिनट के लिए छोड़ दे औऱ सोफ्ट बंची बालों के लिए धो दें।
  5. जैतून का तेल रूखे और दोमुहें बालों के लिए एक उत्कृष्ट उपचार माना जाता है। अपने बालों को अच्छी तरह से धोएं और तौलिये से सुखाएँ। थोड़ा सा जैतून का तेल गर्म करें और बालों की जडों और स्केल्प पर लगाएं। करीब आधा घंटे के लिए लगा रहने दें और फिर शैंपू से धो डालें। अपने नियमित कंडीशनर को लगाएं।
  6. एक महत्वपूर्ण सुझाव का पालन करें जब अक्सर अधिक शैंपू के इस्तेमाल से बचने के लिए अपने रूखे बालों की देखभाल करनी हो। ज्यादातर लोग नियमित शैंपू करते है क्योंकि यह उनकी दैनिक स्वच्छता नियम का एक हिस्सा प्रतीत होता है। हालांकि अपने बालों कों अधिक धोना, बालों के मॉइस्चर को समाप्त करता है।

Seasonal Foods