दादी-नानी और पिता-दादाजी के बातों का अनुसरण, संयम बरतते हुए समय के घेरे में रहकर जरा सा सावधानी बरतें तो कभी आपके घर में डॉ. नहीं आएगा. यहाँ पर दिए गए सभी नुस्खे और घरेलु उपचार कारगर और सिद्ध हैं... इसे अपनाकर अपने परिवार को निरोगी और सुखी बनायें.. रसोई घर के सब्जियों और फलों से उपचार एवं निखार पा सकते हैं. उसी की यहाँ जानकारी दी गई है. इस साइट में दिए गए कोई भी आलेख व्यावसायिक उद्देश्य से नहीं है. किसी भी दवा और नुस्खे को आजमाने से पहले एक बार नजदीकी डॉक्टर से परामर्श जरूर ले लें.
पुरे वर्ष सन् 2018 के पर्व त्यौहार निचे मौजूद है...

लेबल

आप यहाँ आये हमें अच्छा लगा... आपका स्वागत है

नोट : यहाँ पर प्रस्तुत आलेखों में स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी को संकलित करके पाठकों के समक्ष प्रस्तुत करने का छोटा सा प्रयास किया गया है। पाठकों से अनुरोध है कि इनमें बताई गयी दवाओं/तरीकों का प्रयोग करने से पूर्व किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लेना उचित होगा।-राजेश मिश्रा

स्वास्थ लाभ के साथी, इस वेबसाइट से जुड़ें : राज

रविवार, फ़रवरी 15, 2015

मोटापा कम करने में कारगर है एलोवेरा

Vera is effective in reducing obesity

एलोवेरा का पौधा घर में आसानी से लगाया जा सकता है। एलोवेरा के पौधे का रंग हरा होता है, इसमें से जो जेल निकलता है वो हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है। एलोवेरा जैल,एलोवेरा का जूस हमें जितना अंदर से सेहतमंद रखता है उतना ही बाहर से हमें जवान बनाएं रखने में मदद करता है।। एलोवेरा औषधीय गुणों का भंडार है। एलोवेरा में कई पोषक तत्‍व,विटामिन और मिनरल्‍स होते है जो हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी सिद्ध हुए है। ग्वारपाठा यानी एलोवेरा के प्रयोग से हम मोटापे जैसी परेशानी पर भी काबू पा सकते है।
बिगड़ी लाइफस्टाइल और व्यायाम के प्रति बरती गई लापरवाही से वजन बढ़ना अब आम समस्या हो गई है। लेकिन ग्वारपाठा यानी एलोवेरा के प्रयोग से इस परेशानी पर काबू पाया जा सकता है। आइए हम आपको बताते हैं कि एलोवेरा किस तरह वजन कम करने में आपकी मदद करता है।

नींबू का रस और एलोवेरा

एक नींबू का रस, आधा गिलास गुनगुना पानी और 4 टी स्पून एलोवेरा का रस एक साथ मिलाकर पीने से मोटापा घटता है। 

एलोवेरा का रस और मैथी

शुद्ध गुग्गल की 4-5 रति की मात्रा रोजाना एलोवेरा के रस के साथ लेने से लाभ होता है। 4 चम्मच मैथी की पत्तियों का रस या एक पोथी लहसुन, 20 ग्राम एलोवेरा के रस के साथ लेने से मोटापा नहीं बढ़ता। एलोवेरा का प्रयोग लगातार एक साथ ना करके एक माह के अंतराल में करें। 

ये भी हैं उपयोगी

अश्वगंधा के पत्तों का रस दो चम्मच की मात्रा में एलोवेरा के 10 ग्राम गूदे के साथ लेने से लाभ होता है। जिन लोगो का पेट ज्यादा निकला हुआ हो वे त्रिफला चूर्ण के साथ एलोवेरा का रस खाली पेट लें। इस प्रयोग से एक माह में पांच किलो तक वजन कम किया जा सकता है।

  • एक गिलास गुनगुने पानी में नींबू का रस और एलोवेरा का रस मिलाकर पीने से मोटापा कम होता है।
  • अश्वगंधा के पत्तों का रस दो चम्मच की मात्रा में एलोवेरा के 10 ग्राम गूदे के साथ लेने से लाभ होता है।
  • त्रिफला चूर्ण के साथ एलोवेरा का रस खाली पेट लेंने से भी मोटापे से छुटकारा पाया जा सकता है।
  • एलोवेरा का जूस पीने से मोटापा कम हो जाता है। एलोवेरा के पत्तों का सेवन करने से मोटापे पर कंट्रोल रखा जा सकता है।
  • एक लहसुन का रस निकालकर और एलोवेरा का रस मिलाकर पीने से मोटापे से राहत पाई जा सकती है। (सभी प्रयोग विशेषज्ञ की सलाह से करें)